ताजमहल के तहखानों में नहीं हैं हिंदू देवी देवताओं की मूर्तियां : ASI का दावा

ताजमहल नहीं है तेजो महालय ASI
नई दिल्ली, नेशनल न्यूज कॉज, क्या ताजमहल के बंद 20 कमरों में हिंदू देवी देवताओं की मूर्तियां है? इस पर भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने एक आर टी आई (RTI) में बड़ा खुलासा किया है. 
Google Picture 

भारतीय पुरातत्व विभाग (Archaeological Department of India) ने ताजमहल (Taj Mahal) के तहखानों में हिंदू देवी-देवताओं की मूर्ति होने से इनकार किया है. एक RTI के जवाब में ASI ने यह जानकारी दी है.  

ASI ने यह भी बताया कि ताजमहल मंदिर की जमीन पर नहीं बना हुआ है. दरअसल, 12  मई को तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) के राष्ट्रीय प्रवक्ता साकेत एस गोखले (Saket Gokhale ) ने RTI दायर की थी.  

उन्होंने इस आरटीआई में दो सवाल पूछे थे पहला सवाल था की क्या ताजमहल मंदिर की जमीन पर बना है इसके जवाब में ASI ने सिर्फ NO लिखा है.  

दूसरा सवाल क्या ताजमहल के तहखानों में हिंदू देवी देवताओं की मूर्तियां है इस के जवाब में ASI ने एक पंक्ति का जवाब दिया है "तहखानों में हिंदू देवी- देवताओं की मूर्ति नहीं है."
हिंदू संगठनों का दावा था 

इससे पहले कई हिंदू संगठनों ने ताजमहल को तेजो महालय मंदिर बताते हुए ताजमहल के बंद कमरों में हिंदू देवी-देवताओं की मूर्तियों के होने का दावा किया था. इस तरह के दावों के बाद ये मामला तेजी से सुर्खियां में आया.

अयोध्या के एक बीजेपी नेता ने हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच में तहखानों को खुलवाने को लेकर याचिका दायर की थी जिसके बाद अदालत ने उसे खारिज कर दिया था. 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Farmer Protest: किसान आन्दोलन के 35 दिन 7 वें दौर की बात, 2021का स्वागत किसान सड़कों पर ही करेंगे

21 साल से पहले नहीं कर पायेंगे बेटियों की शादी, जल्द कानून बनाने की तैयारी: Exclusive

वन महोत्सव: एक प्रयास बेहतर कल की ओर केंद्रीय विद्यालय रोहिणी सेक्टर 25 में 250 वृक्ष लगाए गए